सोने की कीमतों में भारी गिरावट

0

मुंबई- शुक्रवार को सोने की कीमतों में भारी गिरावट दिखी। दिल्ली में सोने की कीमत 400 रुपये टूटकर 35,400 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गईं। इससे पहले गुरुवार को सोने की कीमत में 930 रुपये की जबरदस्त तेजी देखने को मिली थी।

ऑल इंडिया सराफा एसोसिएशन के अनुसार, स्थानीय कारोबारियों की मांग में कमी आने से भाव में यह कमी देखी गई है। वहीं, चांदी में भी आज गिरावट देखी गई। चांदी का भाव आज 125 रुपये की गिरावट के साथ 39,075 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गया। वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोने की कीमत 1,409.40 डॉलर प्रति औंस पर रही। वहीं, चांदी की कीमत न्यूयॉर्क में 15.21 डॉलर प्रति औंस पर रही।

दिल्ली में में 99.9 फीसद शुद्धता वाला सोना 400 रुपये की मंदी के साथ 35,400 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा। इसी तरह 99.5 फीसद शुद्धता वाले सोने में भी 400 रुपये की कमी हुई और इसका भाव 35,230 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया। चांदी में 125 रुपये की मंदी देखी गई और इसका भाव 39,075 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गया।

एसबीआई का आरटीजीएस, एनईएफटी आईएमपीएस अब फ्री

मुंबई-देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्‍टेट बैंक (एसबीआई) ने आरटीजीएस, एनईएफटी और आईएमपीएस से पैसे ट्रांसफर करने पर लगनेवाले शुल्क को खत्म कर दिया है। अब भारतीय स्‍टेट बैंक के इन सेवाों के लिए आपको कोई चार्ज नहीं देना होगा। यह जानकारी बैंक ने एक प्रेस रिलीज में दी है।

बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी पिछली मौद्रिक नीति समीक्षा के दौरान बैंकों को निर्देश दिया था कि वे इस तरह की सेवाओं पर लगने वाले शुल्क को खत्म करें। इस दिशा में एसबीआई ने पहल की है। एसबीआई के योनो एप्लीकेशन के जरिये एनईएफटी और आरटीजीएस लेनदेन के साथ ही इंटरनेट बैंकिंग और मोबाइल बैकिंग के लिए चार्ज 1 जुलाइ 2019 से ही समाप्‍त कर दिया गया है। आईएमपीएस के चार्ज इन सभी प्‍लैटफॉर्म के लिए 1 अगस्‍त 2019 से खत्‍म हो जाएंगे।

एसबीआई अपनी शाखा के जरिए एनईएफटी और आरटीजीएस करने वाले लोगों के लिए पहले ही शुल्क 20 फीसद घटा चुका है। बैंक ने यह कदम डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने के लिए उठाया है।

10,000 रुपये तक के ट्रांसफर के लिए बैंक पहले ढाई रुपये वसूलता था। वहीं 10,000 रुपये से 1 लाख रुपये तक के लिए एनईएफटी शुल्क 5 रुपये है।

31 मार्च 2019 के आंकड़ों के अनुसार, एसबीआी के इंटरनेट बैंकिंग ग्राहकों की संख्‍या 6 करोड़ है। वहीं, 1.41 करोड़ ग्राहक मोबाइल बैंकिंग का इस्‍तेमाल करते हैं। योनो के लगभग 1 करोड़ उपभोक्ता हैं। बैंक के इस कदम का उद्देश्‍य ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों को डिजिटल प्‍लैटफॉर्म से जोड़ना है।

मुंबई- हफ्ते के अंतिम दिन शेयर बाजार एक बार फिर लाल निशान में बंद हुए। बंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 86 अंकों की गिरावट के साथ 38,736 अंकों पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों का संवेदी सूचकांक निफ्टी 30 अंकों की गिरावट के साथ 11,552 अंकों पर बंद हुआ।

सेंसेक्स में शुक्रवार को दिनभर के कारोबार में मिला-जुला रुख दिखा। दिनभर के कारोबार के बाद मिडकैप और स्मॉलकैप कंपनियों के शेयर बढ़त के साथ हरे निशान में बंद हुए। वहीं, बैंकिंग, कैपिटल गुड्स, ऑयल एंड गैस सेक्टर के शेयर बिकवाली के कारण 100 से ज्यादा अंकों की गिरावट के साथ बंद हुए। मेटल, कंज्यूमर ड्यूरेबल, आईटी, हेल्थकेयर सेक्टर बढ़त के साथ हरे निशान में बंद हुए। निफ्टी में बैंक, प्राइवेट बैंक, फाइनेंस सर्विसेंज, एफएमसीजी सेक्टर के शेयर लाल और ऑटो, आईटी, मीडिया, मेटल, फार्मा, पीएसयू बैंक, रियल्टी सेक्टर के शेयर हरे निशान में बंद हुए।

बीएसई सेंसेक्स में शीर्ष बढ़त वाले शेयरों में बलरामपुर चीनी मिल्स 10.72 फीसदी, क्वैस कॉर्प 9.14 फीसदी, वीगार्ड 6.65 फीसदी, फिलिप्स कार्बन ब्लैक लिमिटेड 5.69, इंटेलेक्ट डिजाइन एरिना लिमिटेड 5.50 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुए, जबकि शीर्ष गिरावट वाले शेयरों में इरिस लाइफसाइंसेस लिमिटेड 7.79 फीसदी, कॉक्स एंड किंग्स 4.96 फीसदी, नौकरी डॉट कॉम 4.96, मनपसंद वेबरेजेस 4.87 फीसदी, डीएचएफएल में 4.14 फीसदी की गिरावट के साथ रहे।

Comments

comments

admin
Avatar

Leave A Reply

20 + 9 =